Watch Vrindavan Jaungi Sakhi Barsane Lyrics

Check Vrindavan Jaungi Sakhi Barsane Lyrics from Religious Bhajan section on e akhabaar


Krishna Bhajan , वृंदावन जाऊँगी सखी लिरिक्स, Vrindavan Jaungi Sakhi Barsane Lyrics


वृंदावन जाऊँगी सखी लिरिक्स
Vrindavan Jaungi Sakhi Barsane Lyrics

वृंदावन जाऊँगी सखी,
बरसाने जाऊँगी,
मेरे  उठे विरह में  पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।
वृंदावन जाऊँगी सखी,
बरसाने जाऊँगी।
मेरे उठे विरह में पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।


छोड़ दिया भोजन पानी,
श्याम की याद में,
मेरे  नैनन बरसे नीर,
सखी, वृंदावन जाऊँगी,
मेरे  उठे विरह में  पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।
वृंदावन  जाऊँगी सखी,
बरसाने जाऊँगी।
मेरे उठे विरह में पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।


नैन लड़े गिरधर से,
मैं तो पागल कर डारि,
तोहे कैसे दिखाऊं दिल चीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।
वृंदावन  जाऊँगी सखी,
बरसाने जाऊँगी।
मेरे उठे विरह में पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।


श्याम  सलोनी साँवली सूरत,
के दर्शन करके,
मेरो मनवा पावे धीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।
वृंदावन  जाऊँगी सखी,
बरसाने जाऊँगी।
मेरे  उठे विरह में  पीर,
सखी वृंदावन जाऊंगी।



Post your comments about Vrindavan Jaungi Sakhi Barsane Lyrics below.